आपका भविष्य बर्बाद कर देगी 20 से 40 उम्र की यह छोटी-छोटी सी गलतियाँ

इंसान की ज़िन्दगी का हर पल काफी कीमती होता हैं. जिसमे उसे क्या काम कब करना चाहिए यह करना बेहद ही महत्वपूर्ण होता हैं. इसी तरह कुछ काम सही समय पर करना चाहिए जैसे व्यक्ति के 20 से 40 के बीच के उम्र का दौर बेहद महत्वपूर्ण होता है जो जिंदगी बना भी सकता है और बिगाड़ भी सकता है. ये वो समय है जब इंसान मानसिक और शारीरिक रूप से सबसे ज्यादा उर्जावान और सशक्त होता है. इसी उम्र में व्यक्ति कोई भी काम करने में पूर्ण प्रतिभा और कार्य को करने के लिए आवश्यक क्षमता होती है. लेकिन इस समय आमतौर पर इंसान यह काम करने से चुक जाता हैं जिसके बाद उसका जीवन दुर्भाग्यपूर्ण बन जाता है. आज हम आपकों ऐसी कुछ गलतियों के बारे में बता रहें हैं जो कि इस उम्र में कभी भी नहीं करनी चाहिए.

स्वास्थ्य की अनदेखी

इस उम्र में हम शारीरिक तौर पर काफी मजबूत होते हैं. इसी कारण हम किसी भी चीज़ को खाने से परहेज नहीं कर पाते हैं. अनियमित भोजन और जंक फूड से रोजाना आपका शरीर जूझता है जिसका असर बढ़ती उम्र के साथ दिखाई देने लगता है हो सकता है भविष्य में आपका शरीर आवश्यकता से अधिक कमजोर हो जायेगा जिसे वापस से ऊर्जावान बना पाना संभव नहीं होता.

आवश्यक बचत नही करना

20 से 40 वर्ष की आयु ऐसी होती हैं जब इंसान के खर्चे बेहद ही कम होते हैं इसी काल में ज़िन्दगी के लिए उचित बचत करना बेहद आवश्यक होता हैं. यदि यह करने में असफल रह जाते हैं तो बाकि की ज़िन्दगी दूसरों के आगे हाथ फैलाना पड़ते हैं. इसीलिए यह गलती ना करें

अपनों को समय ना देना

जीवन के मध्यकाल में लोग सबसे ज्यादा व्यस्त होते हैं. शुरूआत में नौकरी पाने की जद्दोज़हद और फिर करियर में सफल होने की मेहनत में लगें रहते हैं..इस जद्दोज़हद में इंसान अपनों को समय और अहमियत नही दे पाता. ऐसे में आप पैसे तो कमा लेते हैं पर कई बार अनमोल रिश्ते खो देते हैं जिसका अफसोस आपको पूरी लाइफ रहता है .

जल्दबाजी में गलत रिश्ते में पड़ जाना

इस उम्र में हमें जीवनभर के लिए नया साथी मिलता हैं. लेकिन जीवन साथी चुनने ने जल्दबाजी से गलत रिश्ते में पड़ जाते हैं और ये सोच कर रिश्तों को निभाते रहते हैं कि शायद बाद में सब ठीक हो जाएं पर इस चक्कर में समय गवां बैठ देते हैं और आखिर में आप के रिश्ता का भी बुरा अन्त हो जाता है.

दबाव में अपने सपनो को छोड़ देना

जीवन के इस समय में कोई भी फैसला आपकी जिन्दगी का भविष्य निर्धारित कर देता हैं. इसीलिए कोई भी फैसला किसी के दबाव में आकर ना करें. यदि आपका कोई सपना है तो अपनी पूरी इच्छा शक्ति से अपने लक्ष्य को पाने की कोशिश जरूर करनी चाहिए क्योंकि हमसे बेहतर हमारे लक्ष्य को कोई और नही समझ सकता.

बड़े बुजुर्गों की सलाह ना मानना

जोश से भरपूर होने के कारण हमें हमारे सभी फैसले सही लगते हैं सभी खयालात आपको पुराने या कमतर दिखाई देने लगते हैं. लेकिन भूलें नहीं कि आपके माता-पिता जीवन के संघर्षों में आपसे अधिक अनुभवी हैं. वह उस दौर से गुजर चुके है जिसमे अभी आप हैं. इसीलिए बेहद ही समझदारी से उनकी सलाह लेना चाहिए

अरूचिकर पेशे में मजबूरन काम कारना

कई बार आपको मनपसंद जॉब नहीं मिलती लेकिन कॅरियर की सिक्योरिटी या आर्थिक परिस्थिति से निपटने के लिए आप समझौते कर लेते हैं और बेमन से उस जॉब को करते रहते हैं. ऐसा ना करें और तुरंत ही उस जॉब को छोड़ दें वरना ऐसा ना हो कि कुछ वक्त के बाद आप खुद ही अपने काम को अहमियत ना दें और आपको अपना जीवन व्यर्थ लगने लगे.

loading...

Leave a Comment