कंप्यूटर से भी तेज़ कैलकुलेशन करना चाहते हो तो सीख ले ये 17 आसान फार्मूले

सदियों पहले दुनिया को भारत ने वैदिक गणित जैसी खोज दी थी. जिसका महत्व भारत के ही लोग धीरे धीरे करके भूलते जा रहे हैं. इस विद्या का प्रयोग आज विदेशी लोग कर रहे हैं. इसका सबसे बड़ा फायदा यह हैं कि वैदिक विधि से गणित के हिसाब लगाने में न केवल मज़ा आता है, उससे आत्मविश्वास मिलता है और स्मरणशक्ति भी बढ़ती है.

आपने भी किताबों में कभी न कभी वैदिक गणित का पाठ जरुर पढ़ा होगा. इस गणित में कुल 17 फ़ॉर्मूले हैं जो कोई भी इनको आत्मसार कर लेगा वह गणित का इतना बड़ा पंडित हो जायेगा कि कैलकुलेटर से भी तेज वो कैलकुलेशन कर सकेगा. कुछ भारतवासी पूरी दुनिया में अपना गणित का चमत्कार दिखाते रहते है.

आप खुद समझ जायेंगे, जिनके बारे में ये कहा जाता है कि उनका दिमाग कंप्यूटर से भी तेज चलता है. वो पूरी दुनिया में घुमती है और बड़े बड़े शो करती है लाखो डॉलर एक शो के लेती है. और सबको यही गणित के सूत्रों के आधार पर सब बताती है. जैसे 10 अंको की कोई संख्या लिख दो, एक और 10 अंको की संख्या लिख दो, दोनों को गुना करो, कैलकुलेटर जितनी देर में बताएगा वो उससे पहले बता देती है, और इनके ऊपर लाखो डॉलर बरसते है.

वो कुछ भी नहीं है वैदिक मैथमेटिक्स के सूत्र है कोई भी सिख लेगा वही बता देगा इसमे कौन सी खास बात है. उनके बारे में अखबारों में विज्ञापन आता है कि जिनका दिमाग कंप्यूटर से भी तेज चलता है उनसे मिले और उनका व्यख्यान सुने.

राजीव भाई कहते थे कि ऐसी तो हर माता – बहन हो सकती है सभी भाई हो सकते है, बस ये 17 सूत्र सिखने की देरी है सबका दिमाग वैसे ही चलने लगेगा. अगर आपको ये सूत्र सिखने हो तो उसकी बुक्स बाज़ार में उपलब्द है. आप लेकर सिख सकते है.

हमारी एक विनम्र प्रार्थना है आपसे कि आपके घर में छोटे छोटे बच्चे है उनको ये सूत्र जरुर सिखा दीजिये. गणित उनके लिये रोचक हो जायेगा. हमारे देश के बच्चो को गणित में ही सबसे ज्यादा बोरियत आती है क्योकि आज जो गणित हम सीखते और सिखाते है वो अंग्रेजो के तरीके से सीखते है और सिखाते है उसमे रस बिलकुल नहीं है. लेकिन ये जो वैदिक गणित लिखा गया है. इसको सिखने में इतना रस है कि अगर आप 90 साल के भी हो जाये तब भी आपको उतना ही आन्नद आयेगा जितना 15-17 के बच्चे को आता है.

हमारे भारत में शिक्षा के बारे में जो सबसे गहरी बात है कि शिक्षा को रसपूर्ण बनाके सिखाना. हस्ते हस्ते सिखा देना, काम करते करते सिखा देना, गाते गाते सिखा देना. दुनिया में ऐसा कही नहीं है. वैदिक गणित को आप सीखे तो बहुत अच्छा है नहीं तो अपने बच्चो को जरुर सिखाये. पुस्तके बाज़ार में उपलब्द है या नीचे दिए गए लिंक से भी डाउनलोड कर सकते है. आप चाहे तो खुद सीखकर दुसरो को सिखाने का अभियान भी चला सकते है, ये जो तिलस्म बना हुआ है 2-3 लोगो के नाम पर ये टूटे और भारत का हर नागरिक कंप्यूटर से ज्यादा तेज कैलकुलेशन करे.

loading...

Leave a Comment